Wednesday, 2 November 2016

Pre-tuned Lyrics: लत लग गयी // Lat Lag Gayi!!



Lat Lag Gayi // लत लग गयी।

कुछ इस क़दर, मुझे तेरी, चाहत हुई ..
की तेरे साथ, के लिए ,
तेरी परछाई, बने रहने की, लत लग गयी ...!
मुझे तो तेरी लत लग गयी!!

Kuchh is kadar, mujhe teri, chahat hui..
Ki tere saath, ke liye,
Teri parchhayi, bane rahne ki, lat lag gayi..!
Mujhe to, teri lat, lag gayi!!

तू मुड़ के, भी न देखे ..
और छुप के, यूँ ही शर्माए ,
मुझे तो तेरे, झलक की, तलब लग गयी ...!
मुझे तो तेरी लत लग गयी!!

Tu mud ke, bhi na dekhe..
Aur chhup ke, yun hi sharmaaye,
Mujhe to tere, jhalak ki, talab lag gayi..!
Mujhe to, teri lat, lag gayi?!!

फिज़ा तो, तुझ पे, फ़िदा है ..
तुझे, अपनाने, के लिए,
अपनी तो, उस खुदा से, शर्त लग गयी ...!
मुझे तो तेरी लत लग गयी!!

Fizaa to, tujh pe, fidaa hai..
Tujhe, apnaane, ke liye,
Apni to, us khudaa se, shart lag gayi..!
Mujhe to, teri lat, lag gayi!!

©Abhilekh


About Me

My photo
India
Complicated माहौल में simple सा बंदा हूँ। दूरियाँ तो जायज़ है फिर भी ऐसे हमेशा करीब हूँ। कुछ लिख कर, कुछ पढ़कर, सबसे कुछ सीख कर, अकेला ही सही, एक मंज़िल के लिए निकला हूँ।